Search

Cine Manthan

Cinema, Theatre, Music & Literature

Tag

Ranbir kapoor

ऋषि कपूर (1952-2020) : बचपन, जवानी, बुढ़ापा, शो का पटाक्षेप

 कोमल और प्रेममयी स्वर में टीचर : राजू तुम यहाँ क्या कर रहे हो? किशोर लड़का : मैडम मैं सर के सामने कंफैशन कर रहा था, मैंने पाप किया है| कहकर लड़का बाहर जाने लगता है जिससे उसे अपनी टीचर... Continue Reading →

Tamasha (2015) : बचपन ओ’ मोहब्बत को दिल से न जुदा करना

बचपन, बचपन से मोहब्बत और बचपन की मोहब्बतें तीनों का इंसान के जीवन में बहुत बड़ा शायद सबसे बड़ा स्थान है| बचपन की मोहब्बतों में आवश्यक नहीं कि यह किसी इंसान से ही मोहब्बत का मामला हो, यह किसी विधा... Continue Reading →

Bombay Velvet (2015) : अपराध और मुर्दों के टीलों पर बसी शहरी बस्ती के बसने की गाथा

Bombay Velvet केवल बम्बई का ही दस्तावेज नहीं है, परतें उघाड़ी जाएँ तो हर शहर का कमोबेश ऐसा ही इतिहास निकलेगा| बंद कमरों में सत्ताधीश किसी भी शहर की आकृति, रंगत, प्रकृति और तकदीर गढ़ रहे होते हैं और हरेक... Continue Reading →

Blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: