little fugitive1बच्चे वर्तमान में जीते हैं और एक समय में उनका जो भाव होता है वह इतनी अधिक तीव्रता और गहरायी लिये हुये होता है कि उन्हे और कुछ सूझता ही नहीं। एक उम्र होती है जब बच्चे को अगर वह वस्तु न मिले जिस की उसे चाह है तो उसे सब कुछ खराब लगने लगता है, रोता बच्चा अपने सबसे प्रिय व्यक्तियों माता-पिता या करीबी भाई बहन को भी दोषी मानने लगता है क्योंकि वे उसे उसकी मनपसंद वस्तु जानबूझ कर नहीं दे रहे हैं।

यह लगभग भाईयों की हरेक जोड़ी के साथ होता है कि अपने छोटे भाई से गहरा प्यार करने वाला भाई भी ऐसा चाहता है कि छोटा भाई उसके स्कूल में न पढ़े, या अगर पढ़े भी तो जब वह अपने दोस्तों के साथ हो तो वहाँ न रहे।

कभी ऐसा वह उस समय चाहता है जब वह अपने दोस्तों के साथ मस्तमौला किस्म का वक्त व्यतीत करना चाहता है और कभी वह इस कारण से अपने छोटे भाई को वहाँ से भेज देना चाहता है जिससे कि वह उनके एड्वेंचर्स से सीख न लेने लगे। कभी वह सोचता है कि वह तो कैसे भी और किसी भी किस्म के दोस्तों के साथ निर्वाह कर सकता है और तब भी अच्छी आदतों का स्वामी बना रहेगा पर उसके छोटे भाई को इन सब बातों को न ही देखना चाहिये न ही सीखना चाहिये।

वक्त ऐसा भी आता है जब छोटा भाई भी अपने दोस्तों के साथ वक्त्त व्यतीत करते हुये नहीं चाहता कि उसका बड़ा भाई वहाँ रहे।

बहरहाल Little Fugitive में पहले वाला केस है और New York में रहने वाला लड़का Lennie Norton (Richard Brewster) नहीं चाहता कि अपने दोस्तों के साथ मस्ती करते हुये उसका छोटा भाई Joey Norton (Richie Andrusco) वहाँ रहे। Lennie और उसके दोस्त Coney Island पर पिकनिक मनाने जाना चाहते हैं पर वे नहीं चाहते कि उन लोगों से छोटा Joey उन लोगों के साथ चिपका रहे।

जासूसी और रोमांच से भरे कॉमिक्स पढ़कर वे Joey के साथ एक खेल खेलते हैं और उसे Lennie पर फायर करने के लिये उकसाते हैं, मासूम Joey ऐसा करता है और पहले से तय नाटक के अनुरुप Lennie ऐसे गिर जाता है जैसे मर गया हो और उसके दोस्त Joey को डरा देते हैं कि उसने अपने बड़े भाई को मार दिया है। डरा हुआ बेचारा Joey घर भाग आता है पर उसे चैन नहीं मिलता और सजा के डर से वह कुछ पैसे लेकर घर से भाग जाता है और सीधे पहुँच जाता है शहर से बाहर Coney Island पर।

फिल्म अब दो भागों में बँट जाती है, एक तरफ तो Joey की दुनिया है Coney Island पर जहाँ पहुँचने के बाद वह वहाँ के वातावरण में रम जाता है और दूसरी तरफ है Joey के गायब हो जाने से घर पर रह गये Lennie की दुनिया, उसके और उसके दोस्तों द्वारा किये गये मजाक ने उसके छोटे भाई को इस कदर डरा दिया कि वह घर से ही भाग गया, उसके पास पछतावा है और अब उसे इंतजार है Joey के वापिस आने का।

Joey का समय Coney Island पर व्यस्तता में बीत रहा है और कैमरा Joey के क्रियाकलापों और मनोभावों को बहुत रोचक ढ़ंग से और बड़ी ही खूबसूरती से दिखाता है। फिल्म की जान हैं Joey द्वारा Coney Islalittle fugitivend पर व्यतीत किये गये घंटे। वह अपने सारे पैसे किसी न किसी मनोरंजन के साधन पर खर्च कर देता है और अब इस नन्हे लड़के को उस मेले भरे माहौल में अपने आप को संभालना है। वह सारे माहौल का अवलोकन करता है और उसका दिमाग उसे मेहनत करके कमाने का एक तरीका खोज देता है और वह बीच पर इधर उधर पड़ी कोल्ड ड्रिंक्स की बोतलें इकट्ठी करके डिपो तक ले जाता है और प्रत्येक बोतल के बदले उसे कुछ पैसे मिलते हैं जिन्हे वह फिर अपनी इच्छा से अपनी तात्कालिक आवश्यकता पर खर्च करता है।

ऐसी आर्थिक स्वतंत्रता के कुछ मायने जरुर होते हैं चाहे कमाने और खर्च करने वाले व्यक्ति की आयु कुछ भी क्यों न हो।

दर्शक तो सोचते ही हैं कि इस बालक के साथ कुछ भी गलत न हो और ऐसे ही विचार रखने वाला एक व्यक्ति भी मिल जाता है जिसे कुछ संदेह होता है कि हो न हो Joey घर से बिना अपने माता पिता को बताये यहाँ चला आया है और वह उसे लुभाकर किसी तरह उससे उसके घर का फोन नम्बर ले लेता है और फोन कर देता है जो घर में मौजूद Lennie सुनता है।

Joey साहब तो पुलिस के डर से वहाँ आये हुये हैं सो अपने शुभचिंतक को एक पुलिस वाले से बात करते देख वे चुपके से वहाँ से गायब हो जाते हैं और जब तक Lennie वहाँ पहुँचते हैं Joey फिर से Coney Island  पर मौजूद भीड़ में कहीं खॊ गये हैं।

अब फिल्म तीसरे दौर में प्रवेश करती है। बेचारा Lennie हर उस जगह जहाँ उसके लिये संभव है,  Joey के लिये चॉक से संदेश लिखता रहता है, और उन दोनों के बीच चलने वाले कोड वर्ड्स भी लिखता है। वह Joey तक संदेश पहुँचाना चाहता है कि वह जिंदा है और यह सब एक मजाक था।

ऐसे ही इतनी आसानी से दोनों मिल जायें तो फिर फिल्म क्यों बनायी जाये, सो लुका छिपी का एक दिलचस्प दौर चलता रहता है और कितनी ही बार वे बस कुछ ही हाथों की दूरी पर हैं एक दूसरे से पर किसी न किसी बाधा के कारण वे एक दूसरे को देख नहीं पाते। करेले पर नीम चढ़ता ही है और बारिश में कभी कभी ओले भी पड़ते हैं सो Lennie की आशाओं को ठेंगा दिखाती हुयी मूसलाधार बारिश शुरु हो जाती है।

भाइयों को तो मिलना ही है फिल्म के अंत में।

बारिश के समय और उसके रुकने के एकदम बाद की सिनेमेटोग्राफी देखने लायक है और याद रखने लायक तो है ही। फिल्म के निर्देशक Morris Engel और उनकी पत्नी Ruth Orkin दोनों स्टिल फोटोग्राफर थे जब उन्हे फीचर फिल्म बनाने की सूझी और Ray Ashley के साथ उन्होने टीम बना ली। Ray Ashley द्वारा लिखित कहानी और स्क्रीन प्ले को तीनों ने संयुक्त्त रुप से निर्देशित भी किया।

फिल्म का ज्यादातर हिस्सा Coney Island पर शूट किया गया और कैमरा बाल अभिनेता Richie Andrusco की गतिविधियों को अपने अंदर समाहित करता रहा। जैसे लेखक और निर्देशकों की टीम की यह पहली फिल्म थी उसी तरह बालक Richie Andrusco भी पहली बार कैमरे का सामना कर रहे थे और ऐसा कोई प्रमाण नहीं मिलता कि इस फिल्म के बाद उन्होने कोई अन्य फिल्म कभी भी की हो। आज जब वे अपने द्वारा अभिनीत एकमात्र फिल्म की प्रशंसा लोगों से सुनते होंगे तो शायद उनके मन में ख्याल आता हो कि उन्हे कुछ और भी फिल्में कर लेनी चाहियें थीं।

अभिनय के क्षेत्र में किसी तरह की कोई ट्रेनिंग या पूर्व अनुभव न होने के बावजूद वे इस फिल्म में दर्शकों का मन मोह लेते हैं।

Morris Engel, Ruth Orkin और Ray Ashley की तिकड़ी द्वारा पूर्णतया स्वतंत्र रुप से और बिना किसी तरह की बाहरी मदद के, सिर्फ अपने ही साधनों से 1953 में बनायी गयी Little Fugitive न केवल बच्चों या बचपन से किशोरावस्था में कदम रखते चरित्रों की उल्लेखनीय फिल्मों जैसे 400 Blows और किताब आदि की पूर्वज फिल्म है बल्कि इसने फ्रेंच न्यू वेव को शुरुआती रसद और प्रेरणा प्रदान की, जैसा कि खुद Francois Truffaut ने स्वीकार किया था।

जिन दर्शकों ने इसे न देखा हो, जब भी उनका मौका लगे उन्हे इस फिल्म की डीवीडी एकदम लपक लेनी चाहिये। बच्चे के मनोविज्ञान को बखूबी दर्शाती केवल 80 मिनट लम्बी फिल्म उन्हे मोह लेगी।

…[राकेश]

Advertisements